जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी हिस्सेदार

जिसकी जितनी संख्या भारी,
उसकी उतनी हिस्सेदारी।

ये नियम टैक्स देने पर भी लागू होता है क्या? या सिर्फ मलाई खाते समय… https://t.co/XtmGl5gLC3

HDLYNZ